अन्तर्वासना से कुंवारी चुत चोदने मिली

इंडियन हॉट गर्ल चुदाई कहानी उस लड़की की है जिससे मेरी दोस्ती अन्तर्वासना साईट के कमेंट्स सेक्शन में हुई. उसने मुझे अपने शहर में बुला कर चुदाई करवाई.

हैलो फ्रेंड्स, मेरा नाम राजा है. मेरी उम्र 25 साल है और मैं बिहार का रहने वाला हूँ.
मैं अपने घर में मम्मी पापा और अपनी छोटी बहन के साथ रहता हूँ.
मेरे लंड का साइज़ 7 इंच है और ये 4 इंच मोटा है.

मैं हिन्दी देसी सेक्स कहानी की सबसे मस्त साईट अन्तर्वासना पर रोजाना सेक्स कहानी पढ़ता हूँ.

ये इंडियन हॉट गर्ल चुदाई कुछ दिन पहले की है.
अन्तर्वासना पर सेक्स स्टोरी पढ़ते हुए मुझे कमेंट में एक लड़की का कमेंट दिखा, जिसमें लिखा हुआ था.

‘मीट मी ऑन हैंगआउट …’

पहले तो मुझे ये एक फेक मैसेज लगा. तब भी मैंने न जाने क्या सोच कर उसके हैंगआउट पर मैसेज कर दिया.

दो दिन बाद मुझे उसका रिप्लाइ आया, तो मेरी उससे बात होनी शुरू हो गई.

उस लड़की का नाम नव्या था.

मैं- हैलो
नव्या- हाय.

मैं- गुड मॉर्निंग.
नव्या- गुड मॉर्निंग.

मैं- कैसे हो!
नव्या- गुड. आप कौन!

मैंने कहा- मैंने आपका मैसेज अन्तर्वासना पर पढ़ा था.
उसने एक मुस्कुराने वाली स्माइली भेज दी.

मैं- आप क्या करती हो.
नव्या ने जवाब दिया- मैं सेक्स स्टोरी पढ़ती हूँ.

मैं- आपकी साइज़, एज!
नव्या- मेरी उम्र 28 साल है और साइज़ 32-30-34 का है … आपकी?

मैंने उसे अपने बारे में बताया.

फिर मैंने उससे पूछा- आप स्टोरी पढ़ कर क्या करती हो?
नव्या एकदम से खुल कर बोली- चुत में उंगली, कभी कभी गांड में भी.

मैंने पूछा- क्यों लंड नहीं है क्या?
वो बोली- मैं अभी कुंवारी हूँ.

मैंने कहा- तो क्या हुआ … कोई लड़का पटा लो.
उसने कहा- तुम पट जाओ.

मैंने कहा- हां पटा लो … मैं तो एकदम गाय जैसा हूँ … जल्दी से पट जाऊंगा.
वो हंस पड़ी और बोली- मगर मैं तो सांड देख रही थी.

मैं एक पल को झैंप गया और बोला- मेरा मतलब मैं सीधा सा सांड हूँ. आराम से सैट हो जाऊंगा.
वो बोली- चलो देखती हूँ कि कितने बड़े सांड हो और कितने सीधे हो.

फिर उससे ऐसे ही बात होती रही.
उसने बताया कि वो कोलकाता से है और अभी पढ़ाई कर रही है.

उससे यूं ही बात चलती रही और हम दोनों बात करते करते दोस्त बन गए.

उसके बाद हम दोनों इसी तरह से रोज सेक्स की बात करते थे.

जब यही बातचीत का सिलसिला चलता रहा.
तो एक दिन मैंने बोला- यार हम दोनों बात करने से सिर्फ़ दिल को बहला पाते हैं. अब कुछ रियल में करने का मन हो रहा है.
वो बोली- तो आ जाओ न … मैंने कब मना किया है.

मैंने ओके कह दिया.
मैंने उससे कहा- नव्या, तुम मुझे अपनी एक न्यूड पिक भेजो ना!

वो मना करने लगी कि पिक का क्या अचार डालोगे … यही आकर देख लेना.
मैं बोला- मेरा लंड खड़ा है, तो तेरी चुत की फोटो देख कर लंड को ठंडा कर लूँगा.

उसने अपनी चुत की एक पिक भेज दी.
मैं तो देखता ही रह गया यार क्या चुत थी … एक भी बाल नहीं और चुत एकदम गीली, चुतरस टपक रहा था.

पिक देख कर मैंने उससे कहा- अगर अभी तुम सामने होती तो मैं तुम्हें रगड़ कर चोद देता और चुत की सारी मलाई खा जाता.

उसने हंस कर जवाब दिया- तो तब खा लेना, जब मैं सामने आऊंगी.

मैंने उसी समय उसको वीडियो कॉल कर दिया.
उसने मेरा फोन उठा लिया और खुद को दिखाने लगी.

मैंने देखा कि वो अपनी चुत सहला रही थी.
इधर मैं भी अपना लंड हिला रहा था.

करीब दस मिनट के इस फोन सेक्स के बाद हम दोनों झड़ गए और शांत हो गए.

फिर हम दोनों ने मिलने का प्लान बनाया.

उसने मुझे अपना पता बताया तो मैं दो दिन बाद उससे मिलने पहुंच गया.
उसके पते पर पहुंच कर मैंने उसे कॉल किया.

वो बोली- यार, कुछ दिक्कत आ गई है … तुमको मेरा थोड़ा इन्तजार करना पड़ेगा.
मैंने कहा- ठीक है. मैं तुम्हारे आने का इन्तजार कर रहा हूँ.

कुछ दो घंटे बाद वो आई.

उसे देख कर लगा कि क्या मस्त माल है ये तो … सच में बड़ी हॉट लग रही थी वो!
उसने रेड टॉप और ब्लैक जींस पहनी हुई थी, जिसमें वो एकदम कयामत लग रही थी.
मुझे तो वो कोई अप्सरा सी दिख रही थी.

मैंने वहां से कुछ दस किलोमीटर दूर एक होटल बुक किया हुआ था.
मैं उसे लेकर अपने रूम में आ गया.

कमरे में आने के बाद हम दोनों पहले फ्रेश हुए.
फिर मैंने कुछ नाश्ता मंगाया और दोनों नाश्ता करते हुए बात करने लगे.

नव्या से बात करते करते मैंने उसके हाथ को पकड़ कर चूम लिया.
वो मुस्कुरा दी.

फिर मैं उसकी जांघ पर हाथ फेरने लगा, इससे वो गर्म होने लगी.
वो मेरे करीब आ गई और धीरे धीरे हम दोनों के होंठ मिल गए.
हम एक दूसरे को किस करने लगे.

किस करते मैंने उसके बूब्स दबाने लगा.

कुछ ही देर में वो पूरी गर्म हो गई. उसने मेरे पैंट के ऊपर से फूलते हुए लंड को देखा तो वो पगला गई.

उसने मेरे पैंट में बने हुए तंबू के बंबू को पकड़ लिया और बोली- देख रही हूँ कि ये साला कब से टनटना रहा है.
मैंने मजा लेते हुए पूछा- कब से देख रही थीं!

वो बोली- जब मैं तुमसे मिली थी, उसी समय मेरी निगाह इस पर गई थी. ये मुझे फर्स्ट टाइम देखते ही फूल गया था.

नव्या मेरे बंबू मतलब मेरे लंड को पकड़ कर सहला रही थी, तो लंड और कड़क होने लगा था.

मैंने उसके टॉप को उतार दिया.
वो अन्दर रेड कलर की ब्रा पहनी हुई थी.
मैंने उसकी ब्रा को भी खोल दिया.

अब उसके चूचे हवा में फुदकने लगे थे.
एकदम मस्त आम जैसी चूचियां थीं उसकी!

मैंने एक को पीना शुरू कर दिया और दूसरी को एक हाथ से दबाने लगा.

वो गर्म सिसकारियां लेने लगी- आआ … अहहहह … मुउमूँमूमु … चूसो मेरे राजा … आंह इन्हें और ज़ोर से चूसो … पूरा चूस लो.

वह मादक सिसकारियां लेती हुई तरह तरह की आवाज़ निकालने लगी.
मैं एक एक करके उसके दोनों चुचों को चूसता और दबाता रहा.

फिर मैं अपने दूसरे हाथ को उसकी जींस में घुसा कर पैंटी के ऊपर से उसकी चुत सहलाने लगा.

चुत पर हाथ लगाते ही मैंने महसूस किया कि उसकी चुत पूरी गीली हो गई थी.

मैंने बूब्स पीना छोड़ कर उसकी जींस और पैंटी को उतार दिया.
मेरे सामने उसकी एकदम साफ़ चुत गुलाबी रंगत लिए हुए आ गई थी.

उसकी चुत की फांकें मानो गुलाब की पंखुरियां थीं और चुत में से उसका रस टपक रहा था.

मैंने एक पल की भी देर न करते हुए उसकी चुत को चाटना शुरू कर दिया.

वो सिहर गई मगर मैं लगा रहा और उसकी चुत के प्रीकम को चाट कर साफ कर दिया.

कुछ पल की चुत चुसाई का मजा लेने के बाद मैंने अपनी नशीली आंखों से उसे देखा, तो वो भी चुदासी दिख रही थी.

फिर उसने मेरे कपड़े उतारे और मेरे लंड को हाथ में लेकर सहलाने लगी.

मैंने उससे लंड चूसने को बोला तो वो जमीन पर अपने घुटने पर बल बैठ गई और मेरे लंड को मुँह में लेकर लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी.

मेरा लंड उसके मुँह की गर्मी नहीं झेल पाया और अपना सारा रस उसके मुँह के अन्दर ही निकाल दिया.
वो मेरे लंड का सारा माल पी गई और उसने लंड को चाट कर साफ कर दिया.

हम दोनों बिस्तर पर फिर से 69 की पोजीशन में आ गए और एक दूसरे के लंड चुत को चाटने लगे.

वो मादक आवाजें भरने लगी- आआह … आह!

देखते ही देखते उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया. मैंने उसका रस चाट लिया और चुत चाट कर साफ कर दी.

मैं भी फिर से उसके मुँह में झड़ गया.
उसने भी मेरे लंड को चाट कर साफ कर दिया.

दो बार के स्खलन के बाद हम दोनों किस करने लगे.

वो मेरा लंड सहला रही थी.

कुछ देर बाद मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया.

मैंने उसकी दोनों टांगों को फैलाया और उसकी कमर के नीचे एक तकिया लगा दिया.
उसकी चुत उठ गई थी.

मैंने नव्या की चुत के छेद पर लंड को सैट किया और एक ज़ोर का धक्का दे मारा.
उसकी चीख निकल गई और उसकी आंखों से आंसू निकलने लगे. साथ में चुत से खून भी निकल आया.

वो खून देख कर एकदम से घबरा गई.
मैंने उसको संभाला और उतने लंड को चुत में पेले हुए उसे पकड़ कर उसे सहलाने लगा.

कुछ पल बाद मैंने जब देखा कि उसका दर्द कुछ कम हो गया, तो मैंने फिर से एक जोरदार झटका दे दिया.
मेरा लंड चुत को चीरता हुआ पूरा अन्दर चला गया.

वो दर्द से छटपटाने लगी.
मैं फिर से रुक कर उसको किस करने लगा.

जब उसको दर्द में कुछ आराम हुआ तो मैं आराम आराम से चुत में धक्के लगाने लगा.

अब वो मज़े से कूल्हे उठा कर मेरा साथ देने लगी और मज़े से सिसकारियां भरने लगी.

‘आआ … आआह मजा आ रहा है डियर … चोदो … चोदो मुझे … आंह और ज़ोर से चोदो फाड़ दो मेरी छूट … आंह इस साली में बहुत खुजली होती है आंह इसकी पूरी खाज मिटा दो … आआहह …’

मैं ताबड़तोड़ चुदाई करने लगा और वो अचानक से अपने शरीर को ऐंठने लगी.

वो तेज आवाज करते हुए एक बार झड़ गई.

मैंने अब उसे घोड़ी के स्टाइल खड़ी किया और पीछे से चुत में लंड पेल कर उसे चोदना शुरू कर दिया.
वो फिर से मज़े में मादक आवाजें लेने लगी.

मैंने उसकी कमर पकड़ी और तेजी से चुत चुदाई करने लगा.
कोई पांच मिनट बाद वो फिर से झड़ गई और मैं भी झड़ गया.
मैं झड़ कर उसी पर निढाल होकर सो गया.

उस दिन मैंने उसे एक बार और चोदा और सो गया.

एक घंटे बाद जब हम दोनों उठे तो मैंने देखा कि उसकी चुत पूरी सूज गई थी. उससे चलते नहीं बन रहा था.

मैं कमरे से निकला और उसके लिए दर्द की दवा ले आया.

करीब एक घंटे बाद जब हम दोनों होटल से निकलने लगे तो उसने मुझे किस की और बोली- तूने तो आज मेरी फाड़ ही दी.
मैंने हंस कर उससे कहा- तुम्हें छोड़ कर जाने का दिल नहीं कर रहा है.

वो मुस्कुरा दी और बोली- नेक्स्ट टाइम मिलती हूँ.

फिर मैं अपने घर आ गया.

अब हम दोनों हैंगआउट पर ही चैट करते हैं और मज़े कर लेते हैं.

नव्या से अगली मुलाक़ात जब होगी, तब आपको फिर से उसकी चुदाई की कहानी को लिखूंगा.

ये मेरी पहली सेक्स कहानी थी, आपको कैसी लगी इंडियन हॉट गर्ल चुदाई … प्लीज़ मुझे मेल करें.
मेरा सुझाव है कि आप सेक्स कहानी के नीचे कमेंट्स जरूर किया करें और बाकी के लोगों के कमेंट्स भी देख कर सेक्स कहानी को लेकर अपनी बात कहें.

Leave a Reply

Your email address will not be published.